अमिताभ बच्चन ने सुनी राजस्थान की ‘आशा’ की जीवनी

उदयपुर। कार्य को ही पूजा मानने वाले किसी भी क्षेत्र के कर्मचारी अपनी कार्य शक्ति से सबका दिल जीत ही लेते हैं और बात अगर किसी महिला कर्मचारी की हो तो मन में सम्मान और बढ़ जाता है। ऐसी ही कार्मिक है उदयपुर जिले की भिंडर ब्लॉक के मजावड़ा गांव की आशा सहयोगिनी निशा चौबीसा जिन्होंने अपने कार्य करने की निष्ठा और ललक की बदौलत समाज में न केवल महिलाओं की छवि बदली बल्कि घर-घर तक स्वास्थ्य सुविधाओं व पोषण संबंधित जांच कार्य पहुंचा कर देश में अपने नाम का डंका बजा दिया। उन्हीं आशा सहयोगिनी की जीवनी को आज एनडीटीवी के कार्यक्रम में अमिताभ बच्चन ने पूरे देश के सामने साझा किया। कार्यक्रम में अपने जीवनी को साझा करते हुए आशा सहयोगिनी निशा चौबीसा ने बताया कि वह किस प्रकार से अपने परिवार एवं कार्य के प्रति तालमेल बिठाकर कैसे अपने क्षेत्र में चिकित्सकीय सेवाओं को जन जन तक पहुंचाती है एवं घर के कार्यकलापों में भी उतना ही सहयोग करती है जितना अपने कार्य क्षेत्र में।


अंतराष्ट्रीय स्तर के न्यूज चैनल के कार्यक्रम में सदी के महानायक द्वारा जिले की आशा से संवाद करने पर जिला कलेक्टर श्री ताराचंद मीणा एवम सीएमएचओ डॉ दिनेश खराड़ी ने आशा सहयोगिनी निशा चोबीसा को बहुत बहुत बधाई दी है।

कुप्रथाओं से लड़कर बदली महिलाओं की सोच

कार्यक्रम के दौरान आशा सहयोगिनी निशा चोबीसा ने बताया की जब वह गांव में इस पद पर लगी थी तब गांव की महिलाओं के हालात काफी बुरे थे। महिलाएं घर पर ही प्रसव करवाती थी। कम उम्र में ही विवाह हो जाने एवम् जानकारी के अभाव व अंधविश्वास की वजह से वे नवजात का टीकाकरण भी नही करवाती थी। गांव के लोग झाड़-फूंक पर विश्वास करते थे। गांव की महिलाओं को इन कुप्रथाओं और अंधविश्वास से छुटकारा दिलाने के लिए उन्होंने घर-घर जाकर महिलाओं को सरकारी योजना के बारे में अवगत कराया। गर्भवती महिलाओं को समय पर चिकित्सकीय जांच करवाने से लेकर गर्भावस्था में सही खानपान एवम् अस्पताल में ही प्रसव करवाने के लिए प्रेरित किया। हालाकि शुरुआत में लोगो की सोच को बदलने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा लेकिन हिम्मत नही हारी और अपने कर्तव्य के प्रति डटी रही। आज पहले की तुलना में गांव की महिलाओं के स्वास्थ्य के हालात में काफी सुधार आया है।

देश की 8 आशाओं से की अमिताभ बच्चन ने बात, राजस्थान से सिर्फ निशा

खंड मुख्य चिकित्सा अधिकारी भिंडर डॉ संकेत जैन ने बताया कि दिल्ली में हुए एनडीटीवी द्वारा आयोजित लाइव टेलीकास्ट में भारत देश की मात्र आठ आशा सहयोगिनी का चयन किया गया था जिसमें से राजस्थान से एकमात्र उदयपुर जिले के भिंडर ब्लॉक की आशा सहयोगिनी निशा चौबीसा का चयन हुआ।
निशा के काम से प्रभावित होकर वर्ष 2019 में भी तत्कालीन उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने उन्हे आउटलुक पोषण अवार्ड से सम्मानित किया था।

Related Posts

उदयपुर के एमबी अस्पताल के वार्डों में लगाई 35 ईसीजी मशीनें, नहीं आना पड़ेगा इमरजेंसी

उदयपुर। एमबी हॉस्पिटल में एनएबीएच मिलने के साथ ही रोगियों की सुरक्षा के लिए नवाचार होने लगे हैं। हाल ही हॉस्पिटल प्रशासन ने सभी वार्डों में इलेक्ट्रोकार्डियोग्राम या ईसीजी टेस्ट…

Breaking : उदयपुर में पार्षद के घर के पास चाकूबाजी, करीब 4 से 5 जनों को चाकू मारा

उदयपुर। उदयपुर के हिरणमगरी क्षेत्र के पानेरियों की मादड़ी स्थित प्रेम शांति बीएड कॉलेज के पास आज रात को चाकू बाजी की घटना हुई।सबसे खास बात यह है कि इसमें…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You Missed

आचार्य हितवर्धन सुरिश्वर ने कहा विनय जीवन की प्रथम सीढ़ी है

  • July 19, 2024
  • 4 views
आचार्य हितवर्धन सुरिश्वर ने कहा विनय जीवन की प्रथम सीढ़ी है

कथा से पहले ही संसार छोड़ दिया…

  • July 19, 2024
  • 4 views
कथा से पहले ही संसार छोड़ दिया…

सांवरिया सेठ मेहमान बनकर पहुंचे

  • July 19, 2024
  • 4 views
सांवरिया सेठ मेहमान बनकर पहुंचे

उदयपुर के एमबी अस्पताल के वार्डों में लगाई 35 ईसीजी मशीनें, नहीं आना पड़ेगा इमरजेंसी

  • July 18, 2024
  • 9 views
उदयपुर के एमबी अस्पताल के वार्डों में लगाई 35 ईसीजी मशीनें, नहीं आना पड़ेगा इमरजेंसी

चांदीपुरा वायरस : सीएमएचओ ने किया हाई अलर्ट क्षेत्र का दौरा

  • July 18, 2024
  • 9 views
चांदीपुरा वायरस : सीएमएचओ ने किया हाई अलर्ट क्षेत्र का दौरा

उदयपुर सांसद-रावत कतिपय लोग युवाओं को भ्रमित कर पत्थरबाज बना रहे

  • July 18, 2024
  • 9 views
उदयपुर सांसद-रावत कतिपय लोग युवाओं को भ्रमित कर पत्थरबाज बना रहे