दुकान में धमकी भरा पत्र डाल कन्हैया हत्याकांड जैसा खौफ का डर बताया, दो भाई गिरफ्तार, उदयपुर पुलिस ने खोला मामला

उदयपुर। जिले के सराड़ा पुलिस ने दुकान में धमकी भरा पत्र डालने के मामले में दो भाई को गिरफ्तार किया है। एसपी विकास शर्मा ने बताया कि 27—28 दिसम्बर की रात को गोविन्द पटेल निवासी झाडोड सराडा की खाद बीज की दुकान पर अज्ञात व्यक्तियों द्वारा पथराव कर उसकी दुकान में धमकी भरा पत्र डाला। जिसमें गोविन्द पटेल को उदयपुर में हुए कन्हैयालाल हत्याकाण्ड की तरह जान से मारने की धमकी दी गयी थी। मामले की रिपोर्ट में गोविन्द पटेल ने अपने पडोसी और रिश्तेदार देवीलाल पटेल पर शंका जाहिर की थी। गोविन्द पटेल की रिपोर्ट पर प्रकरण दर्ज कर अनुसंधान प्रारंभ किया गया।


प्रकरण की गंभीरता को देखते हुए जिला पुलिस अधीक्षक, उदयपुर विकास शर्मा द्वारा प्रकरण में शामिल अभियुक्तों की शीघ्र गिरफ्तारी हेतु दिशा-निर्देश प्रदान किये गये थे। जिस पर मुकेश कुमार सांखला अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, ग्रामीण व राजेन्द्रसिंह जैन पुलिस उप अधीक्षक, सराडा के सुपरविजन में प्रवीणसिंह राजपुरोहित थानाधिकारी, सराडा मय टीम द्वारा आसूचना संकलित कर एवं तकनीकी सहायता से अनुसंधान किया गया तो सामने आया कि गोविन्द और देवीलाल आपस में चाचा ताउ के भाई है। देवीलाल की झाडोल में पुरानी खाद बीज की दुकान है और गोविन्द पटेल ने भी पास में ही करीब 20-25 दिन पहले खाद बीज एवं सरस डेयरी प्रोडक्ट की दुकान खोल ली। जिससे देवीलाल को दुकान में घाटा होने लगा। जिसे लेकर देवीलाल और गोविन्द में पहले कहासुनी हुई थी। इसके अलावा खेत पर सिंचाई के पानी को लेकर भी गोविन्द पटेल और देवीलाल के पिता धुलजी के बीच कहासुनी हुई थी। जिस कारण इनके द्वारा गोविन्द को डराने के लिए ऐसी धमकी दी गई। जिस पर देवीलाल व उसके भाई को डिटेन कर पूछताछ की गयी तो उन्होनें बताया कि गोविन्द को सबक सिखाने व दुकान खाली करवाकर भगा देने के लिए दोनो भाईयों ने प्लान बनाया कि रात को गोविन्द पटेल की दुकान पर पत्थर फेंकेगे व उदयपुर में कन्हैयालाल हत्याकांड की तरह गोविन्द पटेल को जान से मारने की धमकी देते हुए किसी समुदाय विशेष के व्यक्ति के नाम से खत लिखकर इसकी दुकान में डाल देंगे। जिससे गोविन्द पटेल मार डालने की धमकी से डरकर मौत का खौफ पैदा होने से दुकान खाली कर यहां से भाग जायेगा।
एसपी विकास शर्मा ने बताया कि योजना के मुताबिक जितेन्द्र उदयपुर से एक कार से अपने दो साथियों को लेकर 27 व 28 की मध्य रात्री को करीबन 1.30-1.45 बजे झाडोल पंहुचे। पहले जितेन्द्र ने धमकी भरा पत्र दुकान में डाल दिया तथा फिर तीनों ने रोड़ पर पडे पत्थर व ईंट दूकान के दरवाजे पर फेंक कर मारने शुरू कर दिये। उस समय गोविन्द तथा उसकी पत्नी दोनों उठकर दुकान की छत पर आ गये और कौन हैं, कौन हैं चिल्लाने लगे। जिस पर तीनों वहां से भाग गये। दुकान पर पथराव करने एवं धमकी भरा पत्र डाल गोविन्द पटेल के साथ साथ पूरे समाज में कन्हैयालाल हत्याकाण्ड का हवाला दे खौफ पैदा करने के जुर्म में देवीलाल व जितेन्द्र को गिरफ्तार कर अनुसंधान किया जा रहा है एवं शेष मुल्जिमों की तलाश जारी है। पुलिस की टीम में प्रवीण सिंह राजपुरोहित थानाधिकारी, जीवतराम, प्रतापसिंह, हिम्मतसिंह, मांगीलाल, हितपालसिंह शामिल थे।

Related Posts

घूंघट की ओट से बाहर निकल ग्रामीण महिलायें कर रही अपना व्यवसाय

उदयपुर। हेण्ड इन हेण्ड इंडिया समूह ने विगत 5 वर्षो में राइज़ अप वूमन राजस्थान-लर्निंग इवेन्ट नामक प्रोजेक्ट के तहत उदयपुर, सिराही, जोधपुर व गोगुन्दा की 60 ग्राम पंचायातों की…

रोटरी एलीट का परी अभियान सराहनीयः डॉ. निर्मल कुणावत

उदयपुर। रोटरी डिस्ट्रिक्ट 3056 के प्रांतपाल डॉ. निर्मल कुणावत ने रोटरी क्लब एलीट उदयपुर के परी अभियान की सराहना करते हुए इसे अद्वितीय करार दिया है। वे क्लब द्वारा अभियान…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You Missed

घूंघट की ओट से बाहर निकल ग्रामीण महिलायें कर रही अपना व्यवसाय

घूंघट की ओट से बाहर निकल ग्रामीण महिलायें कर रही अपना व्यवसाय

यूसीसीआई उदयपुर की बैठक, उदयपुर सम्भाग में मैन्युफैक्चरिंग इण्डस्ट्रीज जरूरत

यूसीसीआई उदयपुर की बैठक, उदयपुर सम्भाग में मैन्युफैक्चरिंग इण्डस्ट्रीज जरूरत

मुख्यमंत्रीजी सूरजपोल चौराहा पर किए प्रयोगों की जांच हो, भाजपा नेता श्रीमाली का पत्र

मुख्यमंत्रीजी सूरजपोल चौराहा पर किए प्रयोगों की जांच हो, भाजपा नेता श्रीमाली का पत्र

साउथ अफ्रीका में राजस्थान का ये युवा 8.50 घंटे में दौड़ा 86 किमी

साउथ अफ्रीका में राजस्थान का ये युवा 8.50 घंटे में दौड़ा 86 किमी

संजय सिंघल बोले – भारत में पहली बार संस्कृत में कैंपस इंटरव्यू किए

संजय सिंघल बोले – भारत में पहली बार संस्कृत में कैंपस इंटरव्यू किए

मोदी सरकार में मंत्रियों को बांटे विभाग, देखे पूरी सूची किसको कौनसा विभाग दिया

मोदी सरकार में मंत्रियों को बांटे विभाग, देखे पूरी सूची किसको कौनसा विभाग दिया