उदयपुर । मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने रविवार को विभिन्न मंत्रीगणों, जनप्रतिनिधियों, राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों, प्रशासनिक व संबंधित विभागीय अधिकारियों की वीसी के माध्यम से बैठक ली और लंपी स्किन डिजीज और राजीव गांधी ग्रामीण ओलंपिक खेलों के विषय पर संवाद किया। इस दौरान मुख्यमंत्री ने लंपी स्किन डिजीज के प्रबंधन के लिए किए जा रहे प्रयासों के बारे में बताया और ग्रामीण ओलंपिक खेलों के प्रति उमड़े उत्साह की दी जानकारी। मुख्यमंत्री ने इन खेलों में प्रदेशवासियों की अधिकाधिक सहभागिता का आह्वान करते हुए भव्य आयोजन के निर्देश दिए।


इस दौरान उदयपुर से प्रतिपक्ष नेता गुलाब चंद कटारिया, महापौर जीएस टांक, उदयपुर ग्रामीण विधायक फुलसिंह मीणा भी जुड़े रहे। मुख्यमंत्री से संवाद दौरान प्रतिपक्ष नेता कटारिया ने लंपी स्किन डिजीज के प्रबंधन की सराहना की और कहा कि जिस तेजी से यह रोग आया था उसमें कमी आई है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार रोग प्रबंधन के क्षेत्र में अच्छा काम रही है। उन्होंने जन जागरूकता के लिए और प्रयास करने की जरूरत बताई और सुझाव दिया कि सभी जिला कलेक्टर्स का ग्रामीण जनप्रतिनिधियों से संवाद किया जाना चाहिए। उन्होंने लंपी प्रभावित गोवंश के आइसोलेशन के प्रयास करने की भी बात की। इस दौरान  कलेक्टर ताराचंद मीणा ने जिले में इस रोग के प्रति जागरूकता पैदा करने के लिए किए जा रहे प्रयासों की जानकारी दी और प्रकाशित पोस्टर्स व अन्य सामग्री के बारे में बताया। इस दौरान जिला परिषद सीईओ मयंक मनीष, एसडीएम सलोनी खेमका, एडीएम ओपी बुनकर, पशुपालन संयुक्त निदेशक सूर्यप्रकाश त्रिवेदी, डॉ. ललित जोशी, डॉ. शक्तिसिंह, सीडीईओ पुष्पेन्द्र शर्मा, खेल अधिकारी शकील हुसैन और अन्य विभागीय अधिकारी मौजूद रहे।

About Author

Admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *