तिरंगा पाते ही गूंजा ‘जय हिन्द’

उदयपुर। उदयपुर शहर के राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय आयड़ में शनिवार को उस समय ‘जय हिन्द’, ‘वंदे मातरम’ और ‘भारत माता की जय’ के नारे गूंज उठे जब आत्म रक्षा के गुर सीखने के दौरान छात्राओं के हाथों में राष्ट्रध्वज तिरंगा पहुंचा। आत्मरक्षा के साथ देश भक्ति का जज्बा जुड़ गया और छात्राओं ने राष्ट्र को सशक्त बनाने का संकल्प लेते हुए जय हिन्द के नारों से गगन गुंजा दिया।

उदयपुर शहर के राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय आयड़ में तिरंगा अभियान के दौरान मौजूद अतिथि।

भारतीय सेवा संस्थान की ओर से 9 अगस्त से शुरू किया गया तिरंगा अभियान चौथे दिन शनिवार को राबाउमावि आयड़ पहुंचा जहां संस्थान की ओर से तिरंगा वितरण के साथ आत्मरक्षा प्रशिक्षण भी रखा गया।
पुलिस विभाग की लेडी पेट्रोल में शामिल कंचन, विमला, मीर, कुकी ने बालिकाओं को आत्मरक्षा के गुर सिखाए। इस अवसर पर प्राचार्य श्रीमती अंजली सालवी ने कहा कि बेटियां किसी भी क्षेत्र में कमजोर नहीं हैं। अब तो सेना में भी बेटियों का बोलबाला है। इस तरह का प्रशिक्षण और नियमित अभ्यास बेटियों को मजबूत बनाएगा और वे जीवन में किसी भी मुसीबत का सामना करने के लिए हर वक्त खुद को तैयार महसूस करेंगी।

भारतीय सेवा संस्थान के सचिव राजकुमार पालीवाल ने बताया कि शनिवार को आत्मरक्षा प्रशिक्षण व तिरंगा अभियान में उप प्राचार्य राजेन्द्र कुमार कलाल, आशा शर्मा, हिम्मत लाल नागदा, महेश भावसार, मनोहर चौधरी, आनंद लाल चित्तौड़ा, दिनेश कुमार, पूर्णेन्दु गोस्वामी, भगवती कुमावत आदि का सहयोग रहा। शनिवार को छात्राओं-शिक्षकों सहित 350 को तिरंगा वितरण किया गया। अभियान के तहत 4 दिन में 890 झण्डों का वितरण किया जा चुका है। कुल 5100 झंडों का वितरण करने का लक्ष्य है।

उदयपुर शहर के राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय आयड़ में तिरंगा अभियान के तिरंगा के साथ स्कूली विद्यार्थी।

इस अवसर पर भारतीय सेवा संस्थान की अध्यक्ष पुष्पा मूंदड़ा ने अभियान का उद्देश्य बताते हुए कहा कि आज आधुनिकता की चकाचौंध में नई पीढ़ी सनातन संस्कृति के संस्कारों को भूलती जा रही है। हम नैतिक संस्कारों को खोते जा रहे हैं। व्याभिचार और भ्रष्टाचार से हर कोई त्रस्त है। इन सभी से उबरने के लिए धर्म में दी गई शिक्षाओं को समझने तथा राष्ट्र के प्रति हमारे कर्तव्यों को भी समझकर उनकी पालना करने के लिए संकल्पबद्ध होने की जागरूकता के लिए यह अभियान शुरू किया गया है।

Related Posts

भाग्य दोषी नहीं, कर्मों का भुगतानः डा. प्रशांत अग्रवाल

उदयपुर। नारायण सेवा संस्थान के लियों का गुड़ा परिसर में त्रिदिवसीय  ‘अपनों से अपनी बात’  कार्यक्रम के समापन पर संस्थान अध्यक्ष प्रशांत अग्रवाल ने कहा कि लोग प्रायः भाग्य को दोष…

अब फ्रेंच भाषा उदयपुर में ही सीख सकेंगे, फ्रांस के राजदूत डॉ. माथू और डॉ. लक्ष्यराज सिंह ने की शुरूआत

उदयपुर. उदयपुर संभाग बच्चे, किशोर, वयस्क और पेशेवर कामगार लोग अब फ्रेंच भाषा उदयपुर में ही सीख सकेंगे। इसकी विधिवत शुरूआत शुक्रवार को सिटी पैलेस स्थित महाराणा मेवाड़ पब्लिक स्कूल…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You Missed

घूंघट की ओट से बाहर निकल ग्रामीण महिलायें कर रही अपना व्यवसाय

घूंघट की ओट से बाहर निकल ग्रामीण महिलायें कर रही अपना व्यवसाय

यूसीसीआई उदयपुर की बैठक, उदयपुर सम्भाग में मैन्युफैक्चरिंग इण्डस्ट्रीज जरूरत

यूसीसीआई उदयपुर की बैठक, उदयपुर सम्भाग में मैन्युफैक्चरिंग इण्डस्ट्रीज जरूरत

मुख्यमंत्रीजी सूरजपोल चौराहा पर किए प्रयोगों की जांच हो, भाजपा नेता श्रीमाली का पत्र

मुख्यमंत्रीजी सूरजपोल चौराहा पर किए प्रयोगों की जांच हो, भाजपा नेता श्रीमाली का पत्र

साउथ अफ्रीका में राजस्थान का ये युवा 8.50 घंटे में दौड़ा 86 किमी

साउथ अफ्रीका में राजस्थान का ये युवा 8.50 घंटे में दौड़ा 86 किमी

संजय सिंघल बोले – भारत में पहली बार संस्कृत में कैंपस इंटरव्यू किए

संजय सिंघल बोले – भारत में पहली बार संस्कृत में कैंपस इंटरव्यू किए

मोदी सरकार में मंत्रियों को बांटे विभाग, देखे पूरी सूची किसको कौनसा विभाग दिया

मोदी सरकार में मंत्रियों को बांटे विभाग, देखे पूरी सूची किसको कौनसा विभाग दिया