डॉ. श्रीकृष्ण जुगनू ने खजुराहो में राष्ट्रीय संगोष्ठी में लिया भाग

उदयपुर। राजस्थान के ख्यात विद्वान, लोक मनीषी उदयपुर निवासी इतिहासकार डॉ. श्रीकृष्ण जुगनू ने खजुराहो में जनजातीय लोक कला एवं बोली विकास अकादमी की ओर से ‘श्लोक में अलंकरण’ विषय पर आयोजित संगोष्ठी में हिस्सा लिया और बीज वक्तव्य दिया।  
डॉ. जुगनू ने कहा कि अलंकरण- भूमि का हो या भित्ति अथवा देह का हो , सबका हेतु धर्म, अर्थ, काम और मोक्ष रहा है। भारतीयों का मन अलंकरण प्रिय और अलंकरणों का साधक रहा है। अलंकरण सज्जा के साथ स्वास्थ्य और समृद्धि के सूचक होते हैं। यही कारण है कि द्वार, देहरी, दीवार और देवालय तक उत्तमोत्तम रूप से श्रृंगारित किए जाते हैं। उन्होंने कहा कि इस विषय पर सैकड़ों ग्रंथों में विचार हुआ है। यहां भाषा, भाव, भूमि और भवन तक अलंकरण मिलता है।  उन्होंने कहा कि भारत में अलंकरण बहुत आत्मिक विषय है और नर- नारी सभ्यता के उषाकाल से देह, भूमि और भित्तियों का अलंकरण करते रहे हैं।

डॉ. श्रीकृष्ण जुगनू


संगोष्ठी में ‘भीलों के भारत’ विषय के विद्वान गुजरात से आए भगवानदास पटेल ने अध्यक्षीय उद्बोधन देते हुए कहा कि अलंकारों का आधार हमें भील और अन्य जनजातियों के संस्कार व संस्कृति में खोजना चाहिए।  जनजातियां अपने अनुष्ठानों में अलंकारों और सजावट का उपयोग करती है। उन्होंने डूंगरी भीलों के पर्व के प्रसंग में अलंकारों की अंतरूकथाओं को भी सोदाहरण बताया।
कार्यक्रम के आरंभ में अकादमी के निदेशक डॉ. धर्मेंद्र पारे ने संगोष्ठी के उद्देश्यों पर प्रकाश डाला और देश भर से आए सभी विद्वानों का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि अलंकरण प्राकृतिक रूप में हर काया को सुलभ होते हैं और कृत्रिम रूप में बनाए जाते हैं। ये हमारे अनुष्ठान, लोकाचार और व्रत, त्योहारों को पूर्णता प्रदान करते हैं।
पुस्तक का हुआ विमोचन:  
इस अवसर पर डॉ. श्रीकृष्ण जुगनू द्वारा लिखित अलंकरण: देह, भूमि और भित्ति पुस्तक तथा अकादमी द्वारा संगोष्ठी पर केंद्रित चौमासा (त्रैमासिक) के 121 वें अंक का विमोचन किया गया। संचालन शुभम चौहान ने किया।

Related Posts

गुम हुए 6 लाख के मोबाइल की घंटी दूसरे राज्यों में बज रही थी, पुलिस ने पकड़े

उदयपुर। राजस्थान की उदयपुर पुलिस ने गुम हुए 30 मोबाइल ट्रेस कर उनके मालिकों को लौटा दिए है। मोबाइलों की कीमत करीब 06 लाख रुपए बताई जा रही है। उदयपुर…

नीलकंठ आईवीएफ बेबीज कार्निवल, चारू असोपा भी बच्चों के बीच

उदयपुर। नीलकंठ आईवीएफ फर्टीलिटी एंड टेस्ट ट्यूब बेबी सेंटर द्वारा रविवार को आईवीएफ बेबीज कार्निवल का आयोजन 100 फीट रोड़ स्थित योइस होटल में किया गया।नीलकंठ आईवीएफ के डॉ. आशीष सूद…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You Missed

लेकसिटी के अर्बन स्क्वायर मॉल परिसर में लेमन ट्री होटल

लेकसिटी के अर्बन स्क्वायर मॉल परिसर में लेमन ट्री होटल

उदयपुर-पिंडवाड़ा हाइवे पर भीषण हादसा, चार की मौत

उदयपुर-पिंडवाड़ा हाइवे पर भीषण हादसा, चार की मौत

गुम हुए 6 लाख के मोबाइल की घंटी दूसरे राज्यों में बज रही थी, पुलिस ने पकड़े

गुम हुए 6 लाख के मोबाइल की घंटी दूसरे राज्यों में बज रही थी, पुलिस ने पकड़े

कोर्ट मैरिज से नाराज महिला के अपहरण की फिराक में हरियाणा के पांच को पकड़ा

कोर्ट मैरिज से नाराज महिला के अपहरण की फिराक में हरियाणा के पांच को पकड़ा

आइए ज्ञान खजाना-पाइए संस्कार शिविर में बच्चे सीख रहे ज्ञान-ध्यान

आइए ज्ञान खजाना-पाइए संस्कार शिविर में बच्चे सीख रहे ज्ञान-ध्यान

लेकसिटी कंप्यूप्रिंट एसोसिएशन के अध्यक्ष बनें यशवन्त मण्डावरा

लेकसिटी कंप्यूप्रिंट एसोसिएशन के अध्यक्ष बनें यशवन्त मण्डावरा